वकार यूनुस की भविष्यवाणी, ‘Virat Kohli कहाँ और तेंदुलकर का रिकॉर्ड…’

Virat Kohli
विराट कोहली (Virat Kohli) ने अपने 94 गेंदों में 122 की पारी में अनेक रिकॉर्ड तोड़े और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में अपना नाम एक बार फिर लिखवा लिया।

भारत के पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने सोमवार (11 सितम्बर) को एशिया कप 2023 के सुपर 4 चरण में पाकिस्तान के खिलाफ रिकॉर्ड प्रदर्शन किया और अपनी टीम को यादगार जीत दिलाने में एक बड़ी भूमिका निभाई। कोहली और केएल राहुल, जो मई 2023 में घायल होने के बाद टीम इंडिया में पहली बार वापसी कर रहे थे, ने पाकिस्तानी बोलिंग के साथ खेलवाड़ करते हुए कई रिकॉर्ड तोड़े।

दोनों बल्लेबाज़ों ने नाबाद शतक जड़ टीम इंडिया को बाबर आजम एंड कंपनी को रिकॉर्ड 228 रनों से हराने में मदद की। कोहली से प्रेरित टीम इंडिया ने आर प्रेमदासा स्टेडियम में एशिया कप के सुपर 4 मुकाबले में पाकिस्तान को हराकर अपना पहला अंक अर्जित किया।

विराट कोहली (Virat Kohli) ने अपने 94 गेंदों में 122 की पारी में अनेक रिकॉर्ड तोड़े और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में अपना नाम एक बार फिर लिखवा लिया। कोहली की विष्फोटक बल्लेबाज़ी की प्रशंसा करते हुए पाकिस्तान के महान तेज गेंदबाज वकार यूनिस ने बोला कि भारत के पूर्व कप्तान अपना करियर खत्म करने से पहले महान सचिन तेंदुलकर का विश्व रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

कोहली ने सोमवार को भारत और पाकिस्तान के बीच कोलंबो (श्रीलंका) में बारिश से प्रभावित मुकाबले में अपना 47वां एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेला। कोहली अब बल्लेबाजी आइकन तेंदुलकर के वनडे शतकों के रिकॉर्ड की बराबरी करने से सिर्फ दो शतक दूर हैं।

‘Virat Kohli का रिकॉर्ड कोई सोच भी नहीं सकता’

“उनमें और अन्य खिलाड़ियों के बीच अंतर, यहां तक ​​कि सचिन तेंदुलकर के बीच भी… सचिन तेंदुलकर ने, जब उन्होंने वनडे खत्म किया था, तब उनके नाम 49 शतक थे। मैं आपसे वादा कर सकता हूं कि विराट का क्रिकेट करियर अभी खत्म होने से बहुत दूर हैं। जितना कोई सोच भी नहीं सकता है उससे कहीं अधिक (सैकड़ों) के साथ उनका करियर खत्म होगा,” वक़ार यूनिस ने स्टार स्पोर्ट्स पर बोला।

पाकिस्तान के खिलाफ बल्लेबाज़ी करते हुए विराट कोहली (Virat Kohli) वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 13,000 रन पूरे करने वाले खिलाडी भी बन गए। इस 34 वर्षीय खिलाड़ी ने 267 पारियों में यह बड़ी उपलब्धि हासिल करके तेंदुलकर को पीछे छोड़ दिया है। कोहली और राहुल ने तीसरे विकेट के लिए 233 रन जोड़े, जो एशिया कप के इतिहास में किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है।

वक़ार ने आगे कहा की राहुल चोट के बाद लगभग पांच महीने में अपना पहला प्रतिस्पर्धी मैच खेल रहे और उन्हें कोहली के साथ पिच पर काफी भाग दौड़ करनी पड़ी। “मुझे केएल राहुल के लिए खेद हुआ क्योंकि वह चोट से वापस आ रहे थे और उन्हें इस आदमी के साथ दौड़ना पड़ा। वह एक अत्यंत उत्साही आदमी की तरह दौड़ते हैं। एक रन भी नहीं चूकते, कोई अतिरिक्त रन नहीं चूकते क्योंकि वह सर्वश्रेष्ठ बनना चाहते हैं। वह जो कुछ भी करता है उसमें सर्वश्रेष्ठ बनना चाहता है, बल्लेबाजी, क्षेत्ररक्षण या विकेटों के बीच दौड़। और जो चीज उसे खुद से पसंद है वह है फिटनेस पर उसका काम,” वकार यूनिस ने कहा।