Babar Azam एशिया कप हार के बाद पड़े अकेले? मोईन खान ने कहा पाकिस्तानी टीम में दरार

Babar Azam
Babar Azam को अपनी कप्तानी के लिए आलोचना का सामना करना पड़ा और श्रीलंका मैच के बाद पाकिस्तान टीम की सबसे बड़ी कमज़ोरी फिर से बाहर आ गयी।

पाकिस्तान के लिए एशिया कप 2023 एक निराशाजनक अनुभव रहा। टूर्नामेंट के पहले मैच में नेपाल जैसी कमज़ोर टीम को हराने के बाद पाकिस्तान-भारत का ग्रुप ए मैच बारिश की भेट चढ़ गया हालांकि उस गेम में ग्रीन टीम के तेज़ गेंदबाज़ों ने टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज़ों को सस्ते में आउट कर दिया था। सुपर फोर में पाकिस्तानी टीम सितफ बांग्लादेश से जीत पायी और भारत से रिकॉर्ड रनों से हारी। श्रीलंका ने कोलंबो में सुपर फोर के एक रोमांचक मैच में में बाबर आजम (Babar Azam) की टीम को दो विकेट से हरा टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

बाबर आजम (Babar Azam) को पूरे टूर्नामेंट में अपनी कप्तानी के लिए आलोचना का सामना करना पड़ा और श्रीलंका मैच के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम की सबसे बड़ी कमज़ोरी फिर से बाहर आ गयी। पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तानी ड्रेसिंग रूम में दरार पैदा हो गई है और स्वयं कप्तान को अपने साथी खिलाड़ियों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। बाबर आजम (Babar Azam) और तेज़ गेंदबाज़ शाहीन शाह अफरीदी के बीच थोड़ी गरमागरम बहस हुई थी जिसके कारण मोहम्मद रिज़वान और मुख्य कोच ग्रांट ब्रैडबर्न की बीच में आना पड़ा।

पाकिस्तानी टीम के पूर्व विकेटकीपर मोईन खान ने जियो टीवी पर एक कार्यक्रम के दौरान इस बारे में विस्तार से बात की । “आप विश्व कप से पहले इसे सुधार सकते हैं। यदि मतभेद हैं और आप उन्हें बड़े टूर्नामेंट से पहले सुलझा लेते हैं, तो इससे टीम को और भी अधिक एकजुट करने में मदद मिलती है। लेकिन बेशक, यह टीम के लिए अच्छा नहीं है कि ड्रेसिंग रूम की बातें मीडिया में आ रही हैं। यदि खिलाड़ियों को बाबर के साथ कोई समस्या है, या यदि बाबर मुख्य कोच या टीम निदेशक की अनुपस्थिति में मुद्दे को अच्छी तरह से नहीं संभाल रहा है, तो यह दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि ऐसी चीजों में हस्तक्षेप करना उनका काम है। इन चीजों का ध्यान रखने के लिए उन्हें (मुख्य कोच या टीम निदेशक) ड्रेसिंग रूम में रहना होगा,” मोईन ने कहा।

“अगर मैं कप्तान हूं, और आप अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं, तो मैं आपका नाम लूंगा, आपकी आंखों में आँख मिला कर बात करूँगा, लेकिन शांति से आपको बताऊंगा कि हमें आपसे बहुत उम्मीदें हैं और हम आपका समर्थन करते हैं, लेकिन आप बेहतर प्रदर्शन करने की जरूरत है। लेकिन अगर मैं आप पर ज्यादा ध्यान न देते हुए आपके बारे में बात कर रहा हूं तो आपको बुरा लगेगा। उस खिलाड़ी को लगेगा कि मैं दूसरों के सामने उसका मज़ाक उड़ा रहा हूँ। हर किसी में अहं होता है। बाबर के लिए मैन मैनेजमेंट भी बहुत महत्वपूर्ण है,” पाकिस्तानी पूर्व विकेटकीपर ने कहा।

मोईन खान ने आगे कहा उन्होंने एशिया कप में पाकिस्तान के खेल के दौरान एक चौंकाने वाले पैटर्न पर भी गौर किया और जोर देकर कहा कि उन्हें ऐसा महसूस हुआ कि मैदान पर पूरे समय बाबर आजम (Babar Azam) आज़म अलग-थलग थे।

“हमने पूरे टूर्नामेंट में देखा, मैंने पहले भी इसके बारे में टिप्पणी की है… कोई भी खिलाड़ी बाबर की ओर नहीं आया। न तो रिजवान उनके पास आए, न ही उपकप्तान ही उनके पास आ रहे थे। कोई भी उसके पास नहीं जा रहा था। ऐसा लगा कि हर कोई अलग है, कोई एकता नहीं है,” मोईन ने आगे कहा।