सिर पर ‘जय माता दी’ लिखी पट्टी, हाथ में तिरंगा, जुबां पर ‘हिंदुस्तान जिंदाबाद’ कहते हुए Seema Haider ने लहराया तिरंगा

सीमा हैदर के माथे पर 'जय माता दी' लिखी पट्टी बंधी हुई थी। गले में तिरंगा झंडा लपेटे सीमा अपने पति सचिन के साथ मौजूद दिखी। इस मौके पर सीमा ने हिंदुस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाए।

प्रेम प्रसंग के लिए सुर्खियां बटोर रही सीमा हैदर और सचिन से जुड़ी हर रोज कोई न कोई खबर सामने आती है। हर रोज सीमा हैदर से जुड़ी नई बातों का खुलासा हो रहा है। अब Seema Haider ने ‘हर घर तिरंगा अभियान’ के तहत अपने नए पति सचिन के साथ अपने घर पर तिरंगा फहराया।

सरहद पार करके भारत आई पाकिस्तानी नागरिक सीमा हैदर को कभी मूवी में काम करने का मौका मिलता है, तो कहीं राजनितिक क्षेत्र में चुनाव लड़ने का मौका। आपको बता दें कि पाकिस्तान से सचिन के प्यार के चलते भारत आई Seema Haider ने इस बार कुछ ऐसा किया है, जिससे कि सभी लोग चौंक गए है।

सीमा ने रविवार को नोएडा में अपने पति सचिन और पाकिस्तान से साथ लाए गए चार बच्चों के साथ आजादी का पर्व मनाया। तिरंगे रंग की साड़ी पहने Seema Haider ने घर की छत पर भारत का राष्ट्रीय ध्वज फहराया। साथ में राष्ट्रगान भी गाया।

सीमा हैदर के माथे पर ‘जय माता दी’ लिखी पट्टी बंधी हुई थी। गले में तिरंगा झंडा लपेटे सीमा अपने पति सचिन के साथ मौजूद दिखी। इस मौके पर सीमा ने ‘हिंदुस्‍तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए और कहा कि अगर मौका मिला तो ‘गदर 2 मूवी’ देखने जरूर जाऊंगी। सीमा हैदर ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की जय के भी नारे लगाए। इस तरह Seema Haider ने जब हर घर तिरंगा अभियान में हिस्सा लिया तो उसके चार बच्चे भी साथ थे। इस मौके पर सीमा के केस लड़ रहे वकील एपी सिंह भी मौजूद रहे।

कराची की रहने वाली सीमा अब ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा में सचिन मीना के साथ रह रही हैं। सीमा पर भारत में अवैध रूप से प्रवेश करने और सचिन पर अवैध अप्रवासी को शरण देने को लेकर मामला दर्ज किया गया है।

बता दें कि सीमा हैदर अपने चार बच्चों के साथ भारत आई और उसने नोएडा में रहने वाले सचिन मीना से शादी कर ली। साल 2019 में दोनों की ऑनलाइन गेम पबजी पर मुलाकात हुई थी। इसके बाद, मई, 2023 में वह नेपाल के जरिए भारत पहुंची। 4 जुलाई को जब वह सचिन के साथ शादी के लिए वकील के पास गई तो भारत में अवैध तरीके से घुसने के लिए उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसके साथ सचिन और सचिन के पिता की भी गिरफ्तारी हुई। हालांकि, 2-3 दिन में छोड़ दिया गया।