भाजपा ने Chhattisgarh, Madhya Pradesh elections के उम्मीदवारों कि पहली लिस्ट घोषित की

पार्टी ने 90 सदस्यीय Chhattisgarh विधानसभा के लिए 21 और Madhya Pradesh, जिसमें 230 सीटें हैं, के लिए 39 उम्मीदवारों की घोषणा की है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश विधान सभा चुनावों (Chhattisgarh, Madhya Pradesh elections) की लिए कुछ उम्मीदवारों के नाम गुरूवार (17 अगस्त)को घोषित किए। ऐसा पहली बार हो रहा की भाजपा ने चुनाव की तारीखों की घोषणा होने से पहले ही उम्मीदवारों के नामों कि घोषणा की है।

पार्टी ने 90 सदस्यीय छत्तीसगढ़ विधान सभा के लिए 21 और मध्य प्रदेश, जहाँ 230 विधान सभा सीटें हैं, के लिए 39 उम्मीदवारों की घोषणा की है। दोनों राज्यों में 2023 के अंत में चुनाव (Chhattisgarh, Madhya Pradesh elections) होने हैं। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार है और मध्य प्रदेश में भाजपा की।

यह घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक की अध्यक्षता करने के एक दिन बाद आई है, जो उम्मीदवारों के चयन और चुनाव रणनीतियों की तैयारी के लिए पार्टी की निर्णय लेने वाली संस्था है।

उम्मीदवारों के नामों की पहले से घोषणा करने के भाजपा नेतृत्व के अभूतपूर्व निर्णय का उद्देश्य पार्टी के भीतर मतभेदों की पहचान करना और मुद्दों को पहले से ही हल करना प्रतीत होता है।

मई 2023 के कर्नाटक चुनाव में मिली हार के बाद भाजपा किसी भी राज्य में कोई जोख़िम नहीं लें चाहती है। राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम के साथ छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश उन पांच राज्यों में शामिल हैं जहां विधानसभा चुनाव 2023 के अंत में होने वाले हैं।

राजस्थान में कांग्रेस और तेलंगाना में भारत राष्ट्र समिति का शासन है। मिजोरम में, मणिपुर में हो रहे दंगे और जातीय हिंसा के मद्देनजर सहयोगी और सत्तारूढ़ पार्टी मिजो नेशनल फ्रंट के साथ भाजपा के संबंध तनावपूर्ण हैं। वहीं मध्य प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर होने की उम्मीद है।

छत्तीसगढ़ की सूची में दुर्ग से लोकसभा सांसद विजय बघेल का नाम है। बघेल पाटन से पूर्व विधायक रहे हैं और उन्हें इस बार उसी सीट से मैदान में उतारा गया है। पहली सूची से पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं के नाम गायब हैं। भाजपा की छत्तीसगढ़ सूची में पांच महिलाएं, अनुसूचित जनजाति के 10 उम्मीदवार और अनुसूचित जाति वर्ग से एक उम्मीदवार शामिल हैं।

मध्य प्रदेश में उम्मीदवारों की पहली सूची में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रमुख मंत्रियों के नाम नहीं हैं। मध्य प्रदेश के लिए, पार्टी ने पांच महिलाओं, आठ अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों और 13 अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों को चुना है।