Neeraj Chopra ने विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप भाला फेंक में ऐतिहासिक स्वर्ण पदक जीता

Neeraj Chopra Budapest Javelin Gold
Neeraj Chopra मौजूदा ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता है लेकिन उन्हें फाइनल में अच्छी शुरुआत नहीं मिली और वह केवल 79 मीटर की दूरी तक पहुंच सके।

नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने रविवार (27 अगस्त) को एक और ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की और हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट में पुरुषों की भाला फेंक फाइनल स्पर्धा के दौरान विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय एथलीट बन गए। फाइनल में नीरज चोपड़ा के दूसरे प्रयास में उन्होंने 88.17 मीटर की दूरी तक भाला फेंका। नीरज की उपलब्धि ने वर्ल्ड्स के 2022 संस्करण से एक महत्वपूर्ण सुधार को चिह्नित किया, जहां उन्होंने रजत पदक हासिल किया।

नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) मौजूदा ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता है लेकिन उन्हें फाइनल में अच्छी शुरुआत नहीं मिली और वह केवल 79 मीटर की दूरी तक पहुंच सके। नीरज थ्रो से खुश नहीं थे और उन्होंने स्कोर दर्ज न करने का फैसला किया और फाउल करने के लिए लाइन पार कर ली थी। हालाँकि, भारतीय थ्रोअर ने फाइनल में दूसरे प्रयास के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ बचाया। बुडापेस्ट के स्टेडियम में भारी भीड़ उनका समर्थन कर रही थी और नीरज ने दौड़ कर भला फेंका और विशिष्ट शैली में उसके गिरने से पहले ही जश्न मनाना शुरू कर दिया।

पाकिस्तान के अरशद नदीम 87.82 मीटर के साथ भारतीय स्वर्ण पदक विजेता से थोड़ा पीछे रहकर दूसरे स्थान पर रहे। चेक गणराज्य के जैकब वाडलेज्च ने 86.67 मीटर में कांस्य पदक जीता।

प्रतियोगिता में अन्य दो भारतीय भाला फेंक खिलाड़ियों – किशोर जेना और डीपी मनु – ने भी प्रभावशाली प्रदर्शन किया, भले ही वे पोडियम स्थान सुरक्षित नहीं कर सके। दोनों थ्रोअर ने शीर्ष-8 स्थानों के लिए क्वालीफाई किया और क्रमशः पांचवें और छठे स्थान पर रहे। जेना ने भाला 84.77 मीटर फ़ेंक कर अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड बनाया और मनु ने 84.14 मीटर का थ्रो किया।

भाला फेंक विश्व रैंकिंग में वर्तमान नंबर 1 नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने टोक्यो 2020 में ओलंपिक स्वर्ण जीता था, लेकिन यूजीन (संयुक्त राज्य अमेरिका) में 2022 वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत पदक के साथ संतोष करना पड़ा था। यूजीन में ग्रेनेडा के एंडरसन पीटर्स ने स्वर्ण पदक जीता था। नीराकज चोपड़ा के पहले विश्व चैंपियनशिप में पदक जीतने वाली एकमात्र अन्य भारतीय अंजू बॉबी जॉर्ज थीं, जिन्होंने 2003 में पेरिस में महिलाओं की लंबी कूद में कांस्य पदक जीता था।

2023 इवेंट में पुरुषों के भाला फाइनल के क्वालिफिकेशन राउंड में, नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) को रविवार के इवेंट के लिए जगह पक्की करने के लिए केवल एक थ्रो की जरूरत थी। ओलंपिक चैंपियन ने अपने पहले प्रयास में शानदार 88.77 मीटर दर्ज किया और फाइनल में जगह बनाई। इस थ्रो से नीरज चोपड़ा ने पेरिस ओलंपिक्स 2024 के लिए भी क्वालीफाई कर लिया। रविवार को फाइनल में पहले थ्रो में फाउल के बाद नीरज ने 88.17 मीटर, 86.32 मीटर, 84.64 मीटर, 87.73 मीटर और 83.98 मीटर की दूरी तय की।

भारत के सुपरस्टार भाला फेंक खिलाड़ी चेक गणराज्य के प्रतिष्ठित जान ज़ेलेज़नी और नॉर्वे के एंड्रियास थोरकिल्ड्सन के बाद खेल में एक साथ ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप खिताब जीतने वाले इतिहास में केवल तीसरे बन गए।

ज़ेलेज़नी ने 1992, 1996 और 200 में ओलंपिक स्वर्ण पदक जीता जबकि 1993, 1995 और 2001 में विश्व चैंपियनशिप का खिताब जीता। थोरकिल्ड्सन ने 2008 ओलंपिक और 2009 विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता।