Asian Games 2023: भारतीय पुरुष शूटिंग टीम को स्वर्ण, महिलाओं ने जीता रजत

asian games 2023 Aishwary Pratap Singh Tomar Swapnil kusale akhil sheoran
Asian Games 2023: भारतीय पुरुष टीम ने 1769 अंक हासिल किया जो पिछले विश्व रिकॉर्ड, जो 2022 में कैट चैंपियनशिप में संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा बनाया गया था, से आठ अधिक है।

भारत ने शुक्रवार (29 सितम्बर) को हांग्झोउ (चीन) में चल रहे 19वें एशियाई गेम्स (Asian Games 2023) निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में एक स्वर्ण और एक रजत पदक जीता। भारत कि पुरुष टीम ने 50 मीटर राइफल 3पी में स्वर्ण पदक अपने नाम किया और साथ ही नया वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया।

भारतीय पुरुष शूटिंग टीम के ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर, स्वप्निल कुसाले और अखिल श्योराण ने शुक्रवार (29 सितम्बर) को भारतीय पदक दौड़ कि शुरुआत शानदार तरीके से कि और पुरुष टीम 50 मीटर राइफल 3पी में स्वर्ण पदक झटक लिया। भारतीय पुरुष टीम ने 1769 अंक हासिल किया जो पिछले विश्व रिकॉर्ड, जो 2022 में कैट चैंपियनशिप में संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा बनाया गया था, से आठ अधिक है।

NewzFirst अब व्हाट्सएप पर भी। WhatsApp चैनल पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

बाद में ऐश्वर्या ने पुरुषों की 50 मीटर राइफल 3पी व्यक्तिगत स्पर्धा में रजत पदक जीता। स्वप्निल और ऐश्वर्या ने टीम स्पर्धा में 591 अंक अर्जित कर और एशियाई खेल 2023 (Asian Games 2023) क्वालिफिकेशन इवेंट में क्रमशः पहले और दूसरे स्थान पर रह फाइनल में पहुंचे थे। दोनों निशानेबाजों ने एक नया क्वालीफिकेशन एशियाई खेल और एशियाई रिकॉर्ड भी बनाया।

व्यक्तिगत रैंकिंग में पांचवें स्थान पर रहने के बावजूद अखिल को दुर्भाग्य से क्वालीफिकेशन से चूकना पड़ा क्योंकि एक देश से केवल दो निशानेबाज ही फाइनल में हिस्सा ले सकते हैं।

Asian Games 2023: महिला शूटरों का रजत पदक

भारतीय महिला टीम ने 10 मीटर एयर पिस्टल टीम स्पर्धा में रजत पदक हासिल किया। ईशा सिंह, जो सिर्फ 18 साल कि है, ने अपने साथी निशानेबाज़ों के साथ शानदार शूटिंग कि और एशियाई खेल 2023 (Asian Games 2023) में भारतीय महिला 10 मीटर एयर पिस्टल टीम को रजत पदक दिलाया। यह भारत का शूटिंग प्रतियोगिता में 14वां पदक है।

ईशा (579), पलक गुलिया (577) और दिव्या टीएस (575) की तिकड़ी ने अपने रजत पदक के लिए 1731 अंक जुटाए, जबकि चीन ने 1736 के कुल अंक के साथ स्वर्ण पदक जीता, जो एशियाई खेलों का रिकॉर्ड है। चीनी ताइपे ने कुल 1723 अंकों के साथ कांस्य पदक जीता।

ईशा और पलक के पास भी व्यक्तिगत पदक जीतने का मौका होगा क्योंकि वे दोनों आठ-निशानेबाजों के फाइनल में पहुंच गयी। क्वालिफिकेशन राउंड के बाद ईशा और पलक क्रमशः पांचवें और सातवें स्थान पर रहीं। दिव्या 10वें स्थान पर रहीं और फाइनल से चूक गईं।

क्वालिफिकेशन राउंड के स्कोर टीम के पदक विजेताओं का फैसला करते हैं, जबकि शीर्ष स्कोर करने वाले आठ निशानेबाज व्यक्तिगत गौरव हासिल करने के लिए फाइनल में पहुंचते हैं।

ईशा ने बुधवार को महिलाओं की व्यक्तिगत 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में भी रजत पदक जीता था, जबकि मनु भाकर, ईशा और रिदम सांगवान की तिकड़ी ने उसी दिन महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था।