Elon Musk का सबसे बड़ा दांव, हमेशा के लिए बंद हुआ Twitter!अब X ही सबकुछ

Now everything is X

Now everything is X

Twitter डील होने के बाद Elon Musk ने कंपनी में लगातार कई बदलाव किये हैं। शुरुआत में मस्क ने उस वक्त के CEO पराग अग्रवाल समेत कई बड़े अधिकारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

ट्विटर के नए मालिक Elon Musk ने Twitter की कमान संभालने के साथ इस प्लेटफॉर्म पर कई बदलाव करने में लगे है। पहले उन्होंने 24 जुलाई को ट्विटर का नाम और लोगो बदल दिया। अब उन्होंने ट्विटर अकाउंट @twitter का नाम बदल कर @x कर दिया है। कंपनी Twitter के सभी मेन अकाउंट और उससे संबंधित दूसरे अकाउंट के नाम को X के साथ बदलने में लगी है।

आपको बता दें कि एलन मस्क ने इससे पहले 24 जुलाई (सोमवार) ऑफिशियल ऐलान करते हुए Twitter का नाम X रखने के साथ ट्विटर के ऑफिशियल हैंडल (@Twitter) का logo भी बदल दिया था। इसके बाद उन्होंने ट्विटर के URL को भी बदल दिया था। अब आपको ट्विटर के लिए Twitter.com की जगह X.com का यूआरएल सर्च करना पड़ेगा।

इसके बाद प्लेटफॉर्म के लोगो को भी X से रिप्लेस कर दिया गया। अब ट्विटर के हैंडल को भी X कर दिया है।

Elon Musk ने Twitter खरीदने के साथ ही अपना प्लान क्लियर कर दिया था। उनका मनना था कि Twitter काफी समय से नुकसान में और मै इसको प्रॉफिटेबल कंपनी बना सकता हूं। यही कारण है कि Twitter डील होने के बाद Elon Musk ने कंपनी में लगातार कई बदलाव किये हैं। शुरुआत में मस्क ने उस वक्त के CEO पराग अग्रवाल समेत कई बड़े अधिकारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

इसके बाद उन्होंने ट्विटर के वेरिफिकेशन बैज यानी ब्लू टिक के लिए पेड सर्विस की शुरूआत की। Twitter Blue सब्सक्रिप्शन वैसे तो पहले से मौजूद था, लेकिन मस्क ने ब्लू टिक वेरिफिकेश को Twitter Blue का हिस्सा बना दिया। अब मस्क प्लेटफॉर्म पर रेवेन्यू शेयरिंग कि शुरूआत कर रहे है।

Elon Musk को चीनी ऐप We Chat काफ़ी पसंद है और उन्होंने काफ़ी पहले भी कहा था कि वो We Chat जैसा कुछ लाना चाहते हैं। आपको बता दें कि WeChat चीन का एक सुपर ऐप हैं जहां हर तरह की सर्विस मिलती है। सुपर ऐप का कॉनसेप्ट ये है कि एक ऐप में अलग अलग सर्विस। जैसे सोशल मीडिया, पेमेंट सर्विस, टिकट बुकिंग सर्विस, गेमिंग सर्विस और दूसरी यूटिलिटी बेस्ड सर्विस दी जाती है।

X.com पर ना सिर्फ ट्विटर बल्कि Elon Musk अपनी दूसरी कंपनियों को भी रीडायरेक्ट कर कर सकते हैं। Tesla, SpaceX, Neuralink, The Boring Company से लेकर Starlink जैसे अपने दूसरे प्रोजक्ट को भी Elon Musk X.com डोमेन पर शिफ्ट कर सकते हैं। यानी X.com ओपन करने पर Elon Musk की तमाम कंपनियों का इंटरफेस खुल सकता है।

हालांकि ये अभी साफ नहीं है। Elon Musk ने कहा है कि X एक टर्म है जहां हर कुछ किया जा सकता है। आने वाले समय में X प्लैटफ़ॉर्म पर कई अलग अलग सर्विस दी जा सकती है।