बेंगलुरु के इंजीनियरिंग छात्र ने लोन ऐप्स द्वारा प्रताड़ना के बाद कथित तौर पर आत्महत्या की

Bengaluru Suicide Tejas Nair

Bengaluru Suicide Tejas Nair

तेजस ने कथित तौर पर बहुत सारे रुपये लोन ऐप्स से उधार लिए और अपने दोस्त महेश को दे दिए। लेकिन तेजस पिछले बहुत सारे ईएमआई का भुगतान करने में विफल रहा।

बेंगलुरू के 22 वर्षीय इंजीनियरिंग छात्र तेजस नायर ने ऑनलाइन ऋण (loan apps) देने वाली कंपनियों की प्रताड़ना के बाद मंगलवार (जुलाई 12) शाम को कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। उसने पैसे उधार लेकर अपने दोस्त को दिए थे लेकिन वह कर्ज चुकाने में असफल रहा था

तेजस, जो येलहंका के एक कॉलेज में मैकेनिकल इंजीनियरिंग का छात्र था, ने कथित तौर पर बहुत सारे रुपये लोन ऐप्स से उधार लिए और अपने दोस्त महेश को दे दिए। लेकिन तेजस पिछले बहुत सारे ईएमआई का भुगतान करने में विफल रहा।

पीछे छोड़े गए सुसाइड नोट में तेजस ने लिखा, “माँ, पापा मुझे माफ कर देना। मुझसे जो गलती हुई, उसके लिए मेरे पास और कोई रास्ता नहीं था। गुड बाय।”

पीड़ित के पिता गोपीनाथ ने आरोप लगाया कि उनके बेटे की मौत लोन ऐप्स की प्रताड़ना के कारण हुई है।

“तेजस ने लोन ऐप्स से पैसे उधार लिए थे और अपने दोस्त को दिए थे। उस कर्ज को चुकाने के लिए उसने अपने चचेरे भाइयों से पैसे उधार लिए थे और अपने चचेरे भाइयों को पैसे लौटाने के लिए उसने फिर से ऐप्स से उधार लिया था। तेजस के पिता गोपीनाथ ने कहा, उन्होंने ब्याज और विलंब शुल्क सहित लगभग 30,000 रुपये उधार लिए थे और उन्हें लगभग 45,000 रुपये वापस करने थे,” गोपीनाथ ने कहा।

तेजस के माता-पिता ने बेंगलुरू के जलाहल्ली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।

अपने चुनाव घोषणापत्र में, कर्नाटक कांग्रेस ने 100 दिनों के भीतर ऑनलाइन ऋण ऐप्स को सख्ती से विनियमित करने के लिए एक नीति बनाने का वादा किया था। हालाँकि, नीति अभी तैयार नहीं की गई है।

इस बीच कर्नाटक सरकार ने मंगलवार को कहा कि लोगों को परेशान करने वाले 42 लोन ऐप्स के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. विधान परिषद में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री दिनेश गुंडू राव ने गृह मंत्री जी परमेश्वर की ओर से बोलते हुए कहा, “इस मुद्दे पर केंद्र सरकार और Google के साथ चर्चा की गई है। ऐसे बयालीस ऐप्स पहले ही Google Play Store से हटा दिए गए हैं।”

यदि आप या आपका कोई परिचित आत्महत्या की प्रवृत्ति दिखा रहा है, तो कृपया निम्नलिखित हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क करें: सहाय (Sahai) (कर्नाटक) 080 65000111 और 080 6500 0222, किरण (Kiran) – 18005990019।